अब किसानों को मिलेगा पराली के बदले पैसा, योगी सरकार ने लिया फैसला

योगी सरकार का फैसला
योगी सरकार का फैसला

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने किसानों के हित के लिए बड़ा फैसला लिया है। योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब किसानों को पराली के बदले पैसे मिलेंगे। योगी सरकार की तरफ से कृषि अवशेषों के रेट भी तय किए गए हैं।

कृषि अवशेषों का रेट

सरसों का डंठल (तूड़ी) – दो रुपए प्रति किलो
गन्ने की पत्ती की बेल (गांठ) – डेढ़ रुपए किलो
पराली (धान की पुआल) – डेढ़ रुपए किलो
मक्का का डंठल – डेढ़ रुपए किलो
गेहूं का अवशेष – डेढ़ रुपए किलो
अरहर झकरा – तीन रुपए किलो
मसूर का भूसा – दो रुपए किलो

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसानों की आय को बढ़ाने के लिए कृषि विभाग के नई निर्देश दिए थे। योगी सरकार की पहल पर ही यूपी के बहराईच में कृषि अवशेषों से बायोकोल बनाने के लिए एक ईकाई की स्थापना की गई है।

इस ईकाई में किसानों से धान का पुआल, गन्ने की पत्ती (पेराई के बाच बचा हुआ), मक्के का डंठल, गेहूं कटाई के बाद बचे अवशेष को 15 सौ से लेकर 2000 रुपए प्रति टन के हिसाब से खरीदी जा रही है। इसके अलावा एनटीपीसी ऊंचाहार की ओर से फर्म को 1000 टन प्रतिदिन पैलेट आपूर्ति का आदेश भी मिल चुका है।