सोशल मीडिया का इस्तेमाल हिंसा फैलाने के लिए हुआ तो होगी कड़ी कार्रवाई – रविशंकर प्रसाद

सोशल मीडिया
रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली। मोदी सरकार ट्विटर के खिलाफ एक्शन लेने की तैयारी में नजर आ रही है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को राज्यसभा में कहा कि सोशल मीडिया कंपनियों को कड़ा संदेश दिया है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि सोशल मीडिया का प्रयोग अगर हिंसा फैलाने, फेक न्यूज के लिए किया गया तो कार्रवाई की जाएगी।

ट्विटर और भारत सरकार के बीच चल रहे तनाव के बीच अमेरिका ने भारत सरकार का समर्थन किया है। अमेरिका ने कहा कि वह दुनिया भर में लोकतांत्रिक मूल्यों का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है, ऐसे में भारत के फैसले का समर्थन करता है।

बता दें कि भारत सरकार ने ट्विटर के अधिकारियों के साथ बैठक की थी। बैठक में किसान आंदोलन में फर्जी और भ्रामक सूचना फैलाने वाले अकाउंट को ब्लॉक करने का निर्देश दिया था। भारत सरकार ने खालिस्तान और पाकिस्तान से संबंधित 1178 अकाउंट को बंद करने को कहा था।

जवाब में ट्विटर ने सिर्फ 500 अकाउंट को ही बंद किया और कहा कि ट्विटर अभिव्यक्ति की आजादी का समर्थन करता है और वह नेता और सामाजिक कार्यकर्ताओं के अकाउंट को बंद नहीं करेगा।

इसके बाद सरकार ने कड़ी चेतावनी जारी करते हुए कहा कि ट्विटर को भारत के कानून के हिसाब से चलना होगा। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत में सोशल मीडिया से अफवाह फैलाने की इजाजत किसी को भी नहीं दी जा सकती है।