चीनी सेना के घुसपैठ का भारतीय जवानों ने दिया मुंहतोड़ जवाब, 20 घायल

चीनी सेना की घुसपैठ

सिक्कम सेक्टर के नाकू ला में चीनी सैनिकों ने फिर से घुसपैठ की कोशिश की। भारतीय सेना ने बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी है। घुसपैठ की कोशिशों को हालांकि भारतीय जवानों ने नाकाम कर दिया। रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी सैनिक सिक्किम के नाकू ला में घुसने की कोशिश कर रहे थे। भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई की और इसमें 20 चीनी सैनिक घायल हो गए। यह घटना 20 जनवरी की है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिक्किम के नाकु-ला में घुसपैठ की कोशिश उस वक्त हुई है, जब चीनी सेना ने पूर्वी लद्दाख से अपने 10 हजार जवानों को हटाया है। पूर्वी लद्दाख के अलावा सिक्किम समेत कई इलाकों से चीनी सेना ने अपनी तैनाती को कम किया है, लेकिन अभी भी वहां पर जवान जमे हुए हैं। घुसपैठ के बाद स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

इससे पहले 8 जनवरी को भी चीन का एक सैनिक भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास कर रहा था। जिसके बाद उसे हिरासत में ले लिया गया था। घटना पूर्वी लद्दाख के पैगॉन्ग त्सो लेक के दक्षिणी हिस्से की थी। हालांकि भारत ने 2 दिन बाद ही चीनी सैनिक को लौटा दिया था। इस पर चीन की तरफ से सफाई दी गई थी कि उसका सैनिक गलती से भारतीय इलाके में चला गया था।

भारत और चीन के बीच साल 2003 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ यह सहमति बनी थी कि सिक्किम भारत का है और चीन इसपर कोई दावा नहीं करेगा। इसके बदले में भारत ने तिब्‍बत को चीन का हिस्‍सा मान लिया था। हालांकि, इसके एक साल के भीतर ही चीन के उप-विदेश मंत्री ने तत्कालीन विदेश मंत्री से कहा था कि यह मुद्दा अभी तक सुलझा नहीं है।