भारत को 10 करोड़ डॉलर की मदद, अमेरिका से आज शाम पहुंचेगी पहली खेप

भारत को अमेरिका से मदद

नई दिल्ली। भारत में कोरोना की दूसरी लहर से हालात बेकाबू हो चुके हैं। देश में ऑक्सीजन और दवाओं की कमी महसूस की जा रही है। ऐसे में भारत की मदद के लिए कई देश सामने आए हैं। अमेरिका ने भारत की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है। आज अमेरिका से मदद की पहली खेप भारत पहुंचने वाली है।

जानकारी के मुताबिक, अमेरिका आने वाले दिनों में भारत को 10 करोड़ अमेरिकी डॉलर से अधिक की मदद भेज रहा है। इसमें ऑक्सीजन, दवाओं समेत कई अन्य सामान होंगे। आज पहली खेप भारत पहुंचने वाली है।

व्हाइट हाउस की ओर से जानकारी दी गई है कि अमेरिका आने वाले दिनों में भारत को 100 मिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक की COVID-19 राहत सामग्री मुहैया कराएगा। व्हाइट हाउस ने कहा कि भारत के लिए तत्काल स्वास्थ्य आपूर्ति ले जाने वाली पहली उड़ान आज वहां पहुंचेगी। अमेरिकी एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट ने बुधवार की रात दुनिया के सबसे बड़े सैन्य विमान ट्रेविस एयर फोर्स बेस से उड़ान भरी।

क्या-क्या आ रहा है मदद में?

यूएसएआईडी ने कहा कि शिपमेंट में 440 ऑक्सीजन सिलेंडर और नियामक शामिल हैं, जिसे उदारता से कैलिफोर्निया राज्य द्वारा दान किया गया है। इसके अलावा, पहली उड़ान में यूएसएआईडी 960,000 रैपिड डायग्नोस्टिक टेस्ट भेज रहा है ताकि भारत में कोरोना के सामुदायिक प्रसार को रोकने में मदद करने के लिए संक्रमणों की पहचान की जा सके।

साथ ही भारत के फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स की सुरक्षा के लिए 100,000 एन 95 मास्क बनाए गए।। विदेश मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार, भारत मुख्य तौर पर अभी आक्सीजन उपलब्धता बढ़ाने वाली मशीनें या रेमडेसिविर जैसी दवाइयां ही विदेश से मांग रहा है। कई देशों की तरफ से पीपीई किट्स या मास्क अपनी तरफ से ही दिए जा रहे हैं।