रिहाई के बाद पी चिदंबरम ने सरकार को घेरा, कहा- सरकार के फैसले गलत

पी चिदंबरम
पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम को जेल से बेल मिल गई है। गुरुवार को जेल से रिहा होने के बाद पी चिदंबरम संसद पहुंचे और कहा कि सरकार संसद में उसकी आवाज को दबा नहीं सकती। पी चिदंबरम ने राज्यसभा की कार्रवाई में हिस्सा लिया। केंद्र सरकार नीतियों पर हमला बोलते हुए उन्होंने संसद परिसर में प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर प्रदर्शन भी किया।

संसद की कार्रवाई में हिस्सा लेने के बाद उन्होंने दोपहर 12 बजकर 30 मिनट पर प्रेस कांफ्रेंस किया और कहा कि अर्थव्यवस्था की हालत खराब है और प्रधानमंत्री मोदी इसपर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। पी चिदंबरम ने कहा कि मंत्री के रूप में मेरा रिकार्ड और विवेक बिलकुल स्पष्ट है। उन्होंने कहा कि यदि इस साल के अंत तक अगर पांच प्रतिशत की ब्याज दर छू लेते हैं तो हम भाग्यशाली होंगे।

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि प्रधानमंत्री आमतौर पर अर्थव्यवस्था को लेकर चुप रहते हैं। कश्मीर मामले पर उन्होंने कहा कि मैं उन नेताओं को लेकर चिंतित हूं जिन्हें बिना किसी आरोप के गिरफ्तार किया गया है।