राहुल ने की किसानों से बात, बोले- कानून का विरोध जरूरी

प्याज पर घमासान

मोदी सरकार द्वारा लाया गया कृषि कानून देश में विवाद का विषय बन गया है. कांग्रेस पार्टी की ओर से इसका पुरजोर विरोध किया जा रहा है. इसी विरोध के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज कई किसानों से इस बिल के बारे में बात की. राहुल ने एक बार फिर कृषि कानून का विरोध किया और इसे अंग्रेजों का कानून करार दिया.

महाराष्ट्र के एक किसान ने राहुल से कहा कि अंग्रेजों से लड़ाई के लिए महात्मा गांधी ने कई आंदोलन किए, आज महात्मा गांधी जिंदा होते तो इस कानून का विरोध करते. राहुल गांधी बोले कि तीन कृषि किसान और नोटबंदी-जीएसटी में कोई फर्क नहीं है. पहले पैर में कुल्हाड़ी मारी और अब दिल में चोट की.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला किया, उन्होंने कहा कि इन्हें ये बात समझ नहीं आएगी ये लोग तो अंग्रेजों के साथ खड़े थे.

किसानों ने राहुल गांधी से कहा कि MSP को लेकर कोई भरोसा नहीं दिया गया,एक किसान ने राहुल से कहा कि पहले ईस्ट इंडिया कंपनी थी और अब ये कार्पोरेट कंपनी आ जाएगी. राहुल ने एक किसान से सवाल किया कि पीएम मोदी ने MSP का वादा किया है, जिसपर किसान ने कहा कि वो उनकी बात नहीं मान रहे हैं.