राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम मोदी ने रामविलास पासवान को दी श्रद्धांजलि

केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के संस्थापक राम विलास पासवान का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार शाम निधन हो गया। 74 वर्षीय पासवान ने दिल्ली के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। रामविलास पासवान के निधन की पुष्टि उनके बेटे और एलजेपी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने की। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ”पापा….अब आप इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन मुझे पता है आप जहां भी हैं हमेशा मेरे साथ हैं। मिस यू पापा।”आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से राम विलास पासवान दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती थे। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके दिल का ऑपरेशन भी हुआ था। राम विलास पासवान पांच दशक से अधिक समय से सक्रिय राजनीति में थे और देश के जाने-माने दलित नेताओं में से एक थे। पासवान उपभोक्ता, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मामलों के मंत्री थे।